सुरेश रैना ने आईपीएल 2020 (IPL 2020) से अलग होने पर पहली बार चुप्पी तोड़ी है. उन्होंने आईपीएल सीजन-13 शुरू होने से पहले से स्वदेश वापस हो गए थे. अब उन्होंने ट्वीट के जरिए इसकी वजह बताई है.

सुरेश रैना ने लिखा है कि, ‘पंजाब में मेरे परिवार के साथ जो हुआ है वो खौफनाक है. मेरे अंकल की बड़ी बेरहमी से हत्या कर दी गई है, मेरी बुआ और मेरे दोनों फुफेरे भाइयों भी हमले में बुरी तरह घायल हुए हैं. बदकिस्मति से मौत से लड़ते हुए मेरे एक फुफेरे भाई का निधन हो गया. मेरी बुआ की हालत काफी गंभीर है और वो फिलहाल लाइफ सपोर्ट पर हैं.’

रैना ने दूसरे ट्वीट में सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह और पंजाब पुलिस को टैग करते हुए लिखा है कि, ‘अभी तक हमें ये नहीं पता कि उस रात आखिर हुआ क्या था और किसने इस वारदात को अंजाम दिया था. मैं पंजाब पुलिस से इस घटना में दखल देने की गुजारिश करता हूं. हमलोग कम से कम ये जानना चाहते हैं कि आखिर ये सब किसने किया. उन अपराधियों और अपराध करने के लिए नहीं छोड़ा जाना चाहिए.

गौरतलब है कि ये सारी वारदात पंजाब के पठानकोट जिले में हुई है. पुलिस के मुताबिक रैना के 58 साल के फूफा पर बंदूकधारी लुटेरों ने जानलेवा हमला किया था. 5 सदस्यों का ये परिवार छत पर सोया हुआ था. उसी रात ‘काले कच्छेवाला’ गैंग माधोपुर इलाके के थारियाल गांव में इस वारदात को अंजाम दिया. रैना के फूफा का नाम अशोक कुमार है जो पेशे से एक सरकारी कॉन्ट्रेक्टर हैं . उनकी 80 साल की मां सत्य देवी, उनकी पत्नी आशा देवी, उनके बेटे अपिन और कौशल भी हमले में बुरी तरह घायल हुए हैं

By Desk