महाराष्ट्र के डिप्टी सीएम ने कहा कि दिवाली के दौरान बाजारों में भीड़ से कोरोना संक्रमण बढ़ा है. अगले 8 से 10 दिनों में स्थिति की समीक्षा की जाएगी, तब लॉकडाउन को लेकर आगे का फैसला किया जाएगा

कोरोना का कहर दिल्ली के बाद महाराष्ट्र में बढ़ने लगा है. सरकार ने भी कोरोना की दूसरी लहर के आसार जता दिए हैं. महाराष्ट्र के डिप्टी सीएम ने कहा कि दिवाली के दौरान बाजारों में भीड़ से कोरोना संक्रमण बढ़ा है. उन्होंने कहा कि अगले 8 से 10 दिनों में स्थिति की समीक्षा की जाएगी, तब लॉकडाउन को लेकर आगे का फैसला किया जाएगा.

समीक्षा के बाद लॉकडाउन का निर्णय लेंगे

दरअसल, महाराष्ट्र के डिप्टी सीएम अजित पवार द्वारा ये कहा गया है कि, ”दिवाली के दौरान बाजारों में भीड़ से कोरोना संक्रमण बढ़ा है। अगले 8 से 10 दिनों में स्थिति की समीक्षा की जाएगी, तब लॉकडाउन को लेकर आगे का फैसला किया जाएगा।”अजित पवार, महाराष्ट्र के डिप्टी CM दिवाली के दौरान स्थिति ऐसी थी जैसे भीड़ ने ही कोरोना को मार दिया हो। दीवाली के दौरान काफी भीड़ थी, गणेश चतुर्थी के दौरान भी हमने भीड़ को देखा। हम संबंधित विभागों से बात कर रहे हैं. हम अगले 8-10 दिनों के लिए स्थिति की समीक्षा करेंगे और फिर लॉकडाउन के बारे में आगे निर्णय लिया जाएगा

डिप्टी सीएम अजित पवार ने आगे ये भी कहा- राज्य में स्कूलों को शुरू करने के लिए कई नियम बनाए गए हैं, जो अलग-अलग है कि कैसे स्कूल को सैनेटाइज और स्वच्छता बनाया जाए।

महाराष्ट्र में कोरोना की स्थिति :

अगर महाराष्ट्र में कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों की बात करें तो, यहां कोरोना के 5,760 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की कुल संख्या शनिवार को 17 लाख 74 हजार 455 दर्ज हुई थी। राज्य के स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने कहा- शनिवार को संक्रमण के चलते 62 रोगियों की मौत हुई है, जिसके बाद मृतकों की कुल संख्या 46 हजार 573 हो गई है। राज्य में संक्रमण से मुक्त होने के बाद शनिवार को 4088 लोगों को छुट्टी दे गई, जिसके साथ ही अबतक 1647004 कोविड-19 मरीज ठीक हो चुके हैं। राज्य में फिलहाल 79 हजार 873 रोगियों का इलाज चल रहा है।

By Desk

error: Content is protected !!