नपीएस कर्मचारी संगठन ने अपनी पुरानी पैंशन स्कीम को लागू करने की मांग को लेकर शाहपुर कंडी में आरएसडी परियोजना के चीफ इंजीनियर कार्यालय के बाहर पंजाब सरकार की अर्थी फूंक रोष प्रदर्शन किया।
बांध परियेाजना पर कार्यरत सीपीएफ कर्मचारी संगठन ने एनपीएस कर्मचारी संगठन के बैनर तले , संगठन के जिला मीडिया व आईटी सैल के प्रभारी निर्वेश डोगरा की अध्यक्षता में बांध परियेाजना के चीफ इंजीनियर कार्यालय के बाहर पंजाब सरकार की कर्मचारी विरोधी नीतियों को लेकर पंजाब सरकार का अर्थी फूंक रोष प्रदर्शन किया। इस रोष प्रदर्शन में बांध परियोजना पर कार्यरत बहुत से कर्मचारी नेताओं व कर्मचारियों ने बढ चढ कर भाग लिया। रोष प्रदर्शन को संबोधित करते हुए कर्मचारी नेता निर्वेश डोगरा, गुरनाम सैनी व अन्य ने कहा कि पंजाब सरकार आए दिन कर्मचारी विरोधी निर्णय ले कर कर्मचारी वर्ग को परेशान कर रही है। उन्होनें बताया कि सरकार अपने विधायकों को पुरानी पैंशन के तहत पूरे लाभ दे रही है,परंतु वर्ष २००४ के बाद भर्ती हुए कर्मचारियों के साथ लगतार अन्याय व शोषण कर रही है, जो कि सरासर गलत है। उन्होंनें कहा कि केंद्र सरकार ने एनपीएस स्कीम के तहत किसी कर्मचारी की मृत्यु होने पर उनके परिवार को फैमिली पैंशन देने के लिए आदेश दिए है तथा केंद्र सरकार अपने इन कर्मचारियों की मृत्यु होने पर लाभ भी दे रही है,पंरतु पंजाब सरकार सीपीएफ कर्मचारियों को लगातार शोषण करके, उनको यह लाभ भी नहीं दे रही है। उन्होनें साथ में चेतावनी दी है कि यदि शीध्र ही उनकी उचित मांगों को लागू नहीं किया गया तो २२ नबंवर को उनके एनपीएस कर्मचारी संगठन के बैनर तले जिला मुयालयों के बाहर पंजाब सरकार का अर्थी फूंक रोष प्रदर्शन किया जाएगा। इस अवसर पर कर्मचारी नेता निर्वेश डोगरा, जिला प्रधान गुरनाम सिंह सैनी, प्रधान एसएस लाधुपुर, भूपेंद्र सिंह काश्तीवाल, निशान सिंह भिंडर,स्टीफन, प्रदीप, राजेश कुमार, रविंद्र कुमार व अन्य उपस्थित थे।

By desk1

error: Content is protected !!