आज शिवसेना हिंद की एक बैठक राष्ट्रीय कोर कमेटी चेयरमैन एवं राष्ट्रीय प्रवक्ता एंटी खालिस्तान फ्रंट रवि शर्मा की ओर से की गई। जिसके विषय में जानकारी देते हुए रवि शर्मा ने बताया कि भारतवर्ष हिंदु बहुल देश होने के साथ-साथ अनेकों धर्मों की परंपराओं को अपने आप में समाए हुए है। भारत देश की सनातन परंपराओं पर आज पूरा विश्व चलने का प्रयास कर रहा है। पूरे विश्व में विभिन्न देशों के लोग भारतीय सनातन परंपराओं को आत्मसात करते हुए दिखाई दे रहे हैं। उन्होंने बताया कि जहां एक ओर नासा ने भी भारतीय वेदों पुराणों में कई ऐसी चीजें प्रमाणित की हैं, जिन्हें विज्ञान कुछ ही वर्षों पहले खोज सका है। लेकिन वह भारतीय वेद पुराणों में हजारों-लाखों वर्षों से विद्यमान हैं। उन्होंने बताया कि इतनी महान परंपराओं वाला सनातन धर्म अपने ही देश में कुछ विधर्मीयों द्वारा उपहास का पात्र बनाया जा रहा है। रवि शर्मा ने कहा कि सनातन धर्म से संबंधित प्रत्येक त्योहार पर विधर्मीयों द्वारा उपहास उड़ाया जाना तथा विभिन्न सोशल मीडिया के माध्यमों पर उसे हिंदुओं द्वारा ही अग्रेषित किया जाना हिंदू धर्म के पतन का कारण है। उन्होंने बताया कि अभी कल ही भगवान शिव एवं माता पार्वती को समर्पित सुहागिनों का त्योहार करवा चौथ मनाया गया लेकिन उस का भी कुछ लोगों द्वारा उपहास उड़ाते हुए सुहागिनों द्वारा करवा बंटाने की तर्ज पर शराब के गिलास बंटाने का वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर प्रेषित किया गया। उन्होंने सभी धर्मों को एक समान महत्त्व देने वाले मुख्यमंत्री पंजाब कैप्टन अमरिंदर सिंह तथा उनके मंत्रिमंडल सहयोगियों से इन धर्म द्रोही लोगों के खिलाफ उचित कार्रवाई करने की मांग की है। उन्होंने पंजाब सरकार से मांग करते हुए यह कहा है कि इन लोगों पर सनातन धर्म की परंपराओं का उपहास उड़ाने के मामले में पर्चा दर्ज करके ऐसी सजा दी जाए ताकि भविष्य में कोई भी किसी भी धर्म की परंपराओं का मजाक ना उड़ा सके।

error: Content is protected !!