पठानकोट में तीन कृषि बिलों के विरोध में किसानों द्वारा पठानकोट-अमृतसर हाईवे जाम किया गया और सैन्य वाहनों को भी रोका गया। किसानों की मांग है कि सेंट्रल सरकार द्वारा तीनों कृषि कानूनों को वापस लिया जाए। गौरतलब है कि किसान केन्द्र सरकार द्वारा बनाए गए तीनों कृषि कानूनों का विरोध कर रहे हैं। किसानों की मांग है कि केन्द्र सरकार यह तीनों कृषि कानून वापिस ले और जब तक यह तीनों कानून वापस नहीं लिए जाते तब तक किसानों का धरना जारी रहेगा। किसान जसवीर, गौरव व अन्य किसानों का कहना है कि उनका धरना प्रदर्शन केवल किसानों का धरना प्रदर्शन है अगर कोई पार्टीबाजी से ऊपर उठ कर किसानों का समर्थन करता है तो वह उनका स्वागत करते हैं परंतु वह किसी भी पार्टी की हिमायत नहीं करते और ना ही किसी पार्टी के लोगों को कहते हैं कि वह उनके धरने में शामिल हो। उन्होंने कहा कि उनकी फसल एमएससी पर ही खरीदी जाए यदि उनकी फसल एमएसपी से कम रेट में खरीदी जाती है तो यह किसानों का शोषण हो रहा है जैसे कि मक्की की फसल उसकी एमएसपी से काफी नीचे खरीदी जाती है, ऐसे ही बाकी फसलो का भी हाल है। उन्होने कहा कि जब तक यह तीनों कृषि कानून वापस नहीं लिए जाते उनके धरने प्रदर्शन जारी रहेंगे।

error: Content is protected !!