पठानकोट की सड़कों पर जाना ही जाम की स्थिति उत्पन्न रहती हैं और त्यौहारों के दिनों में हर बार ही यह ट्रैफिक जाम विकराल रूप धारण कर लेता है। पठानकोट के बाजारों की सड़कें पहले ही संक्री होने के कारण दोनों की दोनों तरफा आवाजाही काफी मुश्किल होती है और ऊपर से बाजारों में हुए पड़े अतिक्रमण से वहां रोजाना ही जाम की स्थिति उत्पन्न हो जाती है। जिससे लोगों का वाहनों से तो दूर पैदल निकलना मुश्किल हो जाता है। नगर निगम पठानकोट द्वारा समय-समय पर अभियान चलाकर बाजारों में दुकानदारों को अतिक्रमण ना करने की अपील की जाती है लेकिन उसके बावजूद कुछ लोगों द्वारा अतिक्रमण को बढ़ावा दिया जा रहा है। यही नहीं पठानकोट के व्यापार मंडल से जुड़े पदाधिकारियों की ओर से भी दुकानदारों को अतिक्रमण न करने की अपील की जाती है इस संबंधी क्षेत्र के व्यापारियों ने कहा कि पठानकोट शहर को सुंदर बनाने के उद्देश्य से व्यापारियों ने हमेशा ही नगर निगम पठानकोट का पूरा सहयोग किया है और बाजारों में दुकानदारों को हमेशा ही अपनी दुकानों के बाहर निर्धारित स्थानों तक सामान लगा कर अतिक्रमण न करने की अपील की है। उन्होंने कहा कि आगामी त्योहारों के इन दिनों में बाजारों में लोगों की भीड़ भी बढ़ेगी लेकिन अगर अतिक्रमण रहेगा तो लोगों को आने जाने में समस्या आएंगी, इससे दुकानों तक भी लोग नहीं पहुंच पाएंगे इसलिए व्यापारियों द्वारा फिर से सभी दुकानदारों को अतिक्रमण न करने की अपील की जाएगी और प्रशासन की पठानकोट को सुंदर बनाने के हर अभियान में उनका समर्थन किया जाएगा।

error: Content is protected !!