ए.आर.एम.यू शाखा पठानकोट ने निकाली गेट रैली

पठानकोट: आल इंडिया रेलवे मैन्स फेडरेशन एवम नॉर्दरन रेलवे मैन्स यूनियन के आह्वान पर बोनस मांग दिवस पर ए.आर.एम.यू शाखा पठानकोट द्वारा शाखा अध्यक्ष कामरेड राज कुमार की अध्यक्षता में यूनियन कार्यालय के बाहर गेट मीटिंग का आयोजन किया। कोविड-19 की गाइडलाइन का पालन करते हुए रेल कर्मचारियों ने केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुए रोष प्रकट किया और बोनस की मांग की। मुख्य वक्ता के रूप में उपस्थित मण्डल सचिव कामरेड शिव दत्त ने कर्मचारियों को संबोधित करते हुए केंद्र सरकार एवं रेल प्रशासन की कार्यप्रणाली की निंदा करते हुए उत्पादकता के आधार पर बोनस की मांग की।उन्होंने कहा कि यह बोनस 2019-2020 की कमाई का है। उन्होंने कहा कि बोनस रेल कर्मियों का अधिकार है कोई भीख नहीं है।कामरेड दत्त ने कहा कि अगर आज बोनस की मांग पर केंद्र सरकार ने कोई फैसला नहीं लिया तो 22.10.2020 से पूरे भारत मे रेल का चक्का जाम किया जाएगा। उन्होंने इस संघर्ष के लिए सभी से लामबद्ध होने की अपील की।सहायक मंडल सचिव कामरेड अश्वनी कुमार ने कहा कि रेल कर्मचारियों ने कुर्बानियां देकर बोनस प्राप्त किया है। उन्होंने कहा कि कुर्बानियां व्यर्थ नहीं जाएगी और सरकार ने फैसला नही किया तो कर्मचारी रेल का चक्का जाम कर इतिहास दोहराने को तैयार हैं।इसके अतिरिक्त मंडल उपाध्यक्ष बी.एल यादव सोसाइटी निदेशक कामरेड दीपक गुप्ता, कोषाध्यक्ष कामरेड लखबीर सिंह, तरसेम लाल,परमजीत सैनी, रमेश कुमार, रोहित शर्मा, सुरेश महाजन, अशोक कुमार, विनोद सैनी, नवदीप सैनी, विकास, मुनीष, राधे मीना, राजेश आहूजा ने भी कर्मचारियों को संबोधित करते हुए केंद्र सरकार की निंदा की ओर बोनस की मांग की।

error: Content is protected !!