दिल्ली: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने दीपावली से पहले कुछ बड़े ऐलान करते हुए कहा की महामारी ने अर्थव्यवस्था पर प्रतिकूल प्रभाव ​डाला। सरकार की कई घोषणाओं के जरिए गरीब और कमजोर तबकों की जरूरतों को पूरा किया गया। आपूर्ति की बाधा को कम किया गया लेकिन उपभोक्ता मांग को अभी भी प्रोत्साहित करने की जरूरत है |

LTC Voucher Scheme: एलटीसी कैश वाउचर लेने के एवज में आपको छुट्टियों के लिए पूरा भुगतान नगद में किया जाएगा. इसके अलावा यात्रा किराया जो कर्मचारी के ग्रेड के अनुसार तय होते हैं वो तीन स्लैब में होंगे. यात्री किराया टैक्स फ्री होगा. इस स्कीम में ये भी प्रावधान है कि यात्रा किराए से मिले पैसे से कर्मचारी को तीन सामान खरीदना ही होगा. साथ ही 1 बार छुट्टी के बदले मिले पैसे से 31 मार्च से पहले सामान खरीदना होगा.

मांग को प्रोत्साहित करने के प्रस्ताव के दो भाग हैं, पहला ‘एलटीसी कैश वाउचर स्कीम’ और दूसरा ‘स्पेशल फेस्टिवल एडवांस स्कीम’ है|

सड़क, रक्षा, बुनियादी ढांचे, जल आपूर्ति, शहरी विकास और घरेलू रूप से उत्पादित पूंजीगत उपकरणों पर केंद्र के पूंजीगत व्यय के लिए 25,000 करोड़ रुपये का अतिरिक्त बजट प्रदान किया जाएगा |

पूंजीगत व्यय में वृद्धि करने के लिए 50 वर्षों के लिए राज्यों को ब्याजमुक्त 12,000 करोड़ रुपये का कर्ज दिया जा रहा है |

किये गए ये बड़े ऐलान

  1. एलटीसी कैश वाउचर स्कीम का ऐलान
  2. एलटीसी टिकट पर टैक्स छूट
  3. केंद्रीय कर्मचारियों को 10 हजार रुपये का ब्याजमुक्त लोन
  4. राज्यों को 12 हजार करोड़ रुपये के ब्याजमुक्त स्पेशल लोन ऑफर

By Desk

error: Content is protected !!