यू.पी हाथरस में दलित परिवार की बेटी के साथ गैंगरेप व उसकी हत्या करने की घटना के विरोध में पूरे भारत में रोष प्रदर्शन किए जा रहे हैं,फिर भी सरकार की तरफ से कोई ऐसा आश्वासन नहीं मिल रहा है। जिससे उस बच्ची को न्याय मिल सके बल्कि उत्तर प्रदेश की सरकार के डी.एम लडक़ी के परिवार को धमकी दे रहे हैं। इन सबके विरोध में तथा दोषियों को फांसी पर लटकाने की मांग को लेकर डॉक्टर अंबेडकर वैलफेयर महासंगठन की ओर से जिला पठानकोट के दलित समाज (एस.सी, बी.सी, ओबीसी, एस.टी) धार्मिक एवं सामाजिक संगठनों द्वारा पठानकोट शहर में 7 अक्तूबर दिन बुधवार सुबह 11 बजे बाल्मीकि चौंक से एक रोष मार्च निकाला जा रहा है। इस संबंधी महासंगठन के अध्यक्ष भागू राम ने कहा कि इस रोष मार्च में सभी संगठनों द्वारा दोषियों को फांसी देने की मांग करते हुए नारेबाजी की जाएगी। उन्होंने सभी संगठनों से अपील की कि इस रोष मार्च में हिस्सा लें। इस अवसर पर सीनियर उपाध्यक्ष केवल कृष्ण,प्रवेश मेहरा, चेयरमैन आर.एल सोनी, सीनियर उपाध्यक्ष प्रिंस, बाल्मीकि समाज के पदाधिकारी अध्यक्ष रमेश कटु, दीपक पट्टी, दिनेश पट्टी, रमेश दरोगा, सुदेश पट्टी, बंटी, हरदेव पट्टी, राहुल अटवाल, एस.के सावन, रमेश कुमार, पप्पू, रमना देवी आदि उपस्थित थे।

error: Content is protected !!