महिला खाताधारक अनशन दौरान हुई बेहोश

एनपीए अकाउंटस के कारण आरबीआई द्वारा पैसों की निकासी पर लगाई गई पाबंदी से आर्थिक परेशानियां झेल रहे हिंदू को-ऑपरेटिव बैंक पठानकोट के खाताधारकों एवं शेयरहोल्डरों ने अपनी मांगों को लेकर आज गांधी जयंती पर बाल्मीकि चौंक में अनशन की शुरुआत की। इस दौरान खाताधारकों ने चौंक में धरना देकर बैंक मैनेजमेंट मौजूदा नेताओं और सरकार के खिलाफ अपनी भड़ास निकालते हुए जमकर नारेबाजी की। इस धरने का नेतृत्व कर रहे खाताधारक रजत बाली ने बताया कि पिछले 4 महीनों से सत्यग्रह करते हुए हम सब ने पठानकोट के सभी राजनीतिक पार्टियों चाहे कांग्रेस के विधायक अमित विज हो, भाजपा सांसद सन्नी देओल,पंजाब भाजपा प्रधान अश्वनी शर्मा हो या आम आदमी पार्टी के पठानकोट पूर्व हल्का इंचार्ज सौरभ बहल से भेंट की लेकिन किसी ने भी हमारी समस्या का समाधान नही करवाया। उन्होंने कहा कि आज मजबूर होकर गांधी जयंती पर बाल्मीकि चौंक मे अनशन करना पड़ा। अनशन पर बैठे हिंदू कोऑपरेटिव बैंक के खाताधारकों एवं शेयरहोल्डरों ने अनशन करने के दौरान अचानक प्रदर्शन तेज करते हुए वाल्मीकि चौंक का वाहनों के लिए आने जाने का रास्ता बंद कर दिया, देखते ही देखते पुलिस प्रशासन मौके पर पहुंच गया कड़कती धूप में प्रदर्शनकारी तपती हुई सड़क पर बैठे थे कि महिला खाताधारक कमलेश कटारिया अचानक बेहोश हो गई। जिससे अफरा-तफरी का माहौल बन गया। देखते ही देखते एंबुलेंस मौके पर पहुंची। उक्त महिला को साथी खाताधारकों ने पानी पिलाकर ठीक करने की कोशिश की। पूरे बाजार की सड़कों का माहौल खराब दिखता हुआ नजर आया। पीर बाबा चौंक से आने वाला एवं काली माता मंदिर के बाहर से बाल्मीकि को जाने वाला रास्ता बंद कर दिया। इस वजह से शहर की सड़कों पर जाम की स्थिति उत्पन्न रही और लोगों को आने-जाने में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा। बैंक के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे खाताधारकों का कहना है कि जब तक उन्हें उनके पैसे वापस नहीं मिलते, तब तक उनका यह धरना जारी रहेगा।

दूसरी तरफ धरना दे रहे भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष अश्विनी शर्मा भी बैंक मैनेजमेंट के खिलाफ दिए जा रहे धरने में खाताधारकों का समर्थन करने पहुंचे, उनके समक्ष भी खाताधारकों ने जमकर नारेबाजी की। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष अश्विनी शर्मा ने आश्वासन दिया कि उन्हें उनका हक दिलाने के लिए वह उनका पूरा समर्थन करेंगे।

error: Content is protected !!