जिला अस्पताल में खून की कमी को किया पूरा / आज भी 230 यूनिट किये दान

कोविड काल दौरान जहां राज्य सरकार द्वारा लोगो को इस महामारी से बचाने के लिए अनथक प्रयास किये जा रहे है वही दूसरी तरफ समाज सेवी संस्थायों द्वारा भी लोगो को इस महामारी के दौरान सहायता प्रदान की गई है ताकि राज्य में कोई भी शख्स भूखा न सोये नही बल्कि सिविल अस्पताल में आपात सेवायों के लिए जरूरत वाले खून की व्यवस्था को बनाये रखने के लिए भी कई संस्थायों द्वारा अपना सहयोग दिया गया है जोकि आज भी जारी है इसी के चलते आज पठानकोट सवीयर्स संस्था की युवा टीम व पठानकोट विकास मंच द्वारा ब्लड कैंप का आयोजन किया गया जिस में 230 ब्लड यूनिट दान किये गए।
इस सबंधी जानकारी देते हुए संस्था के चेयरमैन नरिंद्र काला
ने कहा कि कोविड काल दौरान सिविल अस्पताल में खून की कमी देखने को मिल रही थी जिस के चलते उनके द्वारा कोविड महामारी के दौरान अपना सहयोग देते हुए 1000 के करीब ब्लड यूनिट अब तक दिए जा चुके है और आज भी हमारे द्वारा कैंप का आयोजन कर खून दान किया जा रहा है ताकि अस्पताल में आने वाले मरीजों को खून की कमी न आये।
दूसरी तरफ जब इस सबंधी अस्पताल प्रशासन के डॉ राजविंदर कोर से बात की गई तो उन्होंने कहा कि इस कोविड काल दौरान इस संस्था का अस्पताल प्रशासन को बहुत सहयोग रहा है जब भी सिविल अस्पताल में ब्लड यूनिट कमी देखने को मिली तो इस संस्था द्वारा सामने आ खून दान कैंप लगा मदद की गई है इस मौके उन्होंने शहर की बाकी संस्थायों से अपील करते हुए कहा कि वो भी सामने आए ताकि इस कोविड महामारी से मिल कर जीत हासिल की जा सके।

error: Content is protected !!