भाजपा मुख्यालय में आयोजित पार्टी की कोर कमेटी की बैठक में प्रदेश अध्यक्ष अश्वनी शर्मा ने कहा कि कृषि अध्यादेश किसानों के हितों की रक्षा करने वाले हैं। भाजपा किसानों के जीवन में बेहतर बदलाव लाने के उद्देश्य से कृषि अध्यादेश लेकर आई है। उन्होंने कहा कि हरसिमरत कौर बादल का केंद्रीय मंत्रिमंडल से इस्तीफा देना दुखद है। लेकिन इस मामले में भारतीय जनता पार्टी कुछ नहीं कर सकती।
अब यह अकाली दल को तय करना है कि वह गठबंधन में रहेगा या नहीं। उन्होंने कहा कि  सूबे के किसानों तक अध्यादेशों के संबंध में सही जानकारी नहीं पहुंच पायी है। इसी कारण वे इसका विरोध कर रहे हैं। भाजपा कार्यकर्ता गांव- गांव जाकर किसानों को अध्यादेशों के हर पहलू  से अवगत कराएंगे ताकि उनको पता चल जाए कि इनसे उन्हें कितना लाभ होगा। 


जिला प्रधानों के साथ बैठक की
कोर कमेटी की बैठक के बाद देर शाम जिला प्रधानों के साथ हुई वर्चुअल बैठक में प्रदेश अध्यक्ष अश्वनी शर्मा ने जिला प्रधानों से हरसिमरत के इस्तीफे के बाद बदले राजनीतिक हालात की जानकारी ली। उन्होंने जिला प्रधानों को हिदायत दी कि कार्यकर्ता गांव गांव जाकर अध्यादेशों को लेकर किसानों की गलतफहमी दूर करें ।

By Desk

error: Content is protected !!