अभिनेत्री कंगना रनौत को केंद्रीय गृह मंत्रालय ने दी ‘Y’ कैटेगरी की सुरक्षा दी है. कंगना की सरक्षा में 7 पुलिसकर्मी तैनात होंगे. अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद फिल्म इंडस्ट्री के एक धड़े में नशीली दवाओं के उपयोग के बारे में बोलने के बाद रनौत को नए सिरे से मिल रही धमकी के मद्देनजर यह फैसला लिया गया है. गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि गृह मंत्रालय ने अर्द्धसैनिक बल के माध्यम से रनौत को वाय-प्लस श्रेणी की सुरक्षा उपलब्ध कराने का निर्णय किया है.

अभिनेत्री कंगना रनौत ने वाय प्लस श्रेणी की सुरक्षा दिए जाने पर गृह मंत्री अमित शाह का आभार भी जताया है. कंगना ने अपने ट्वीट में लिखा. ‘मैं गृह मंत्री अमित शाह जी की आभारी हूं. वो चाहते तो हालातों के चलते मुझे कुछ दिन बाद मुंबई जाने की सलाह देते मगर उन्होंने भारत की एक बेटी के वचनों का मान रखा, हमारे स्वाभिमान और आत्मसम्मान की लाज रखी, जय हिंद.’

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने अभिनेत्री को यह सुरक्षा ऐसे समय प्रदान की है जब कंगना और शिवसेना सांसद संजय राउत के बीच जुबानी जंग जारी है. कंगना ने महाराष्ट्र सरकार से भी सुरक्षा की मांग की थी.  कंगना सुशांत आत्महत्या मामले में लगातार अपना पक्ष रख रही हैं और इन दिनों अपने बयानों की वजह से सुर्खियों में हैं. 

इससे पहले, हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर (Jairam Thakur) ने भी कंगना रनौत को सुरक्षा देने की बात कही थी. ठाकुर ने कहा, ‘कंगना रनौत के पिता ने लिखित में पुलिस से सुरक्षा की मांग की है. मैंने DGP को इस बारे में कहा है. उनका मुंबई जाने का कार्यक्रम 9 सितंबर का है, उसके बारे में भी हिमाचल प्रदेश की तरफ से सुरक्षा की दृष्टि से विचार चल रहा है.’

By Desk

error: Content is protected !!