लद्दाख के चुमार में आज एक बार फिर चीन ने घुसपैठ की कोशिश की. हालांकि भारतीय सेना ने चीन के मंसूबों को नाकाम कर दिया.

सीमा पर चल रहे तनाव और भारतीय सैनिकों के द्वारा पिटाई किए जाने के बावजूद चीन के सैनिक सुधरने के लिए तैयार नहीं हैं. 29 और 30 अगस्त की रात में घुसपैठ की कोशिश जब भारतीय सेना ने विफल कर दी तो चीनी सैनिकों ने 31 अगस्त की रात में फिर से घुसपैठ की कोशिश की. लेकिन इस बार भर भारतीय सैनिकों ने उन्हें खदेड दिया. विदेश मंत्रालय (Ministry Of External Affairs) ने कहा है कि चीनी पक्ष (Chinese Side) की तरफ से सीमा विवाद (Border Dispute) में द्विपक्षीय समझौतों का उल्लंघन किया गया है. चीन ने उन बातों की अनदेखी की जिन पर पहले सहमति बनी थी और उकसावे वाली सैन्य कार्रवाई की.

अपनी सीमा की सुरक्षा के लिए भारत ने उठाए जरूरी कदम
विदेश मंत्रालय ने 29/30 अगस्त की रात पैंगोंग लेक इलाके में हुई घटना को लेकर प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि उस रात चीनी पक्ष की तरफ से नियमों का उल्लंघन हुआ और सीमा पर स्थिति बदलने के लिए उकसाने वाली कार्रवाई की गई. भारतीय सेना ने सोमवार को इस बाबत बताया था कि चीनी पक्ष को उचित जवाब दिया गया है. भारत ने अपनी सीमाओं की रक्षा के लिए जरूरी कदम उठाए हैं.

दोबारा हुई उकसावे की सैन्य कार्रवाई
विदेश मंत्रालय ने कहा है कि चीनी सैनिकों ने 31 अगस्त को फिर उकसावे वाली कार्रवाई की जबकि स्थिति सामान्य करने के लिए कमांडर चर्चा कर रहे थे. चीनी पक्ष ने पैंगोंग सो के दक्षिण तट के क्षेत्र में यथास्थिति को बदलने का प्रयास किया.

By Desk

error: Content is protected !!