देश में कोरोना वायरस के मामले लगातार बढ़ रहे हैं. अबतक देश में 28 लाख से ज्यादा मामले संक्रमण के आ चुके हैं, जबकि 53 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. इस बीच एक रिसर्च में चौंकाने वाला दावा किया गया है, जिसके मुताबिक देश में हर 4 में से 1 शख्स कोरोना वायरस से संक्रमित है, जो कि केंद्र सरकार की ओर से बताए जा रहे आंकड़ों से कहीं ज्यादा है.

26 फीसदी सैंपलों में एंटीबॉडी

एक रिपोर्ट के मुताबिक, थायरोकेयर नाम की एक निजी लैबोरेटरी ने देशभर में 2 लाख से ज्यादा एंटीबॉडी टेस्ट किए हैं, जिससे मिले नतीजों के आधार पर यह दावा किया जा रहा है. इसके मुताबिक देश की एक चौथाई से ज्यादा आबादी कोरोना के संपर्क में आ चुकी है.

थायरोकेयर के प्रमुख डॉ ए. वेलुमणि के मुताबिक, उन्होंने 2 लाख 70 हजार एंटीबॉडी टेस्ट के नतीजों का विश्लेषण किया है, जिसके नतीजे बताते हैं कि 26 फीसदी लोगों के शरीर में पहले ही एंटीबॉडी विकसित हो चुके हैं. इसका मतलब ये है कि ये लोग कोरोना संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं और ठीक भी हो गए हैं.

अनुमान से ज्यादा लोगों में एंटीबॉडी

रिपोर्ट में डॉ वेलुमणि के हवाले से बताया गया है कि इस जांच के दौरान उन्होंने जो अनुमान लगाया था, इसके नतीजे उस अनुमान से काफी ज्यादा हैं और यह समान रूप से हर उम्र के लोगों में पाए गए हैं.

देश में गुरुवार 20 अगस्त को अबतक एक दिन में आए सबसे ज्यादा 69,652 मामले आए, जो इस मामले में नया रिकॉर्ड है. वहीं 977 लोगों ने भी बीते 24 घंटों में अपनी जान गंवा दी. देश में पिछले कई दिनों से लगातार 60 हजार से ज्यादा मामले और 900 से ज्यादा लोगों की मौतें हो रही है, जो अब दुनिया में सबसे ज्यादा है.

By Desk

error: Content is protected !!